ऑनर किलिंग: माता-पिता को बेटी के चरित्र पर हुआ शक तो अपनी ही सगी बेटी को जहर देकर मौत के घाट उतार दिया, पुलिस पूछताछ में जुर्म कुबूला

ऑनर किलिंग का एक सनसनीखेज मामला दिल्ली से सटे हुए हरियाणा के सोनीपत जिले से सामने आया है। यहाँ जब माता पिता को अपनी ही सगी बेटी के चरित्र पर शक हुआ तो उन्होंने बेटी को जहर पिलाकर मार डाला। वही अब सोनीपत पुलिस ने दोनों माता पिता को गिरफ्तार कर लिया है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सोनीपत के पुरखास गांव से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां पुरखास गांव के निवासी एक माता पिता ने अपनी ही सगी बेटी के चरित्र पर शक होने पर उसे जहरीला पदार्थ दे दिया और मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद रात में ही उसके शव का दाह संस्कार भी कर दिया। वही जब पुलिस को इस मामले की जानकारी मिली तो पुलिस ने मां-बाप दोनों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है और अब इन दोनों को गिरफ्तार भी कर लिया है। वही आपको बता दे कि अब इन दोनों को कोर्ट में पेश किया गया है और इन्हें एक दिन के रिमांड पर लिया गया है। वही दोनों से गहनता पूछताछ की जा रही है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सोनीपत जिले के गांव पुरखास निवासी महा सिंह और उसकी पत्नी बबीता को अपनी बेटी के चरित्र पर शक था। दोनों ने बीती देर रात को पहले तो अपनी बेटी को जहरीला पदार्थ देकर मार डाला, वही इसके बाद रात को ही उसका दाह संस्कार भी कर दिया। इसके बाद जब पुलिस को इस बारे में सूचना मिली तो उन्होंने पूरे मामले में गहनता से जांच की और माता पिता दोनों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर इन दोनों को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद इन्हें आज कोर्ट में पेश किया गया, और 1 दिन की रिमांड पर लिया है। पुलिस दोनों से गहनता से पूछताछ कर जल्द से जल्द इस मामले का खुलासा करना चाहती है।

इस मामले में DSP जोगिंद्र सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि थाने में तैनात एसआई अमित तथा उनकी टीम गांव पुरखास की तरफ गश्त करने गई हुई थी, तभी उनको एक मुखबिर ने बताया कि गांव में एक मां-बाप ने अपनी ही बेटी की हत्या कर दी है और उसके शव का दाह संस्कार भी कर दिया गया है। वही इस पूरे मामले में अमित ने जब गहनता से जांच की तो इस सूचना को सही पाया। इसके बाद पुलिस ने मां-बाप के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया। इन दोनों आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में यह कबूल किया है कि उनको अपनी बेटी के चरित्र पर शक था इसलिए दोनों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी और रात में ही उसके शव का दाह संस्कार कर दिया।