रिश्ते शर्मशार: जेठानी से देवरानी मानती थी रंजिश, बदला लेने के लिए घर के आंगन में जिंदा दफना दी जेठानी की 3 माह की बच्ची, हुई मौत

पंजाब के जलालाबाद के गांव सैदोका में एक महिला ने अपनी रंजिश के कारण अपनी ही जेठानी की 3 महीने की सो रही बच्ची को घर के आंगन में जिंदा दफना दिया। जिसके कारण उसकी मौत हो गई। इतना ही नहीं इस सबके बाद इस मासूम बच्ची को महिला ने आंगन से निकाल कर शौच जाने वाली जगह पर बने पानी की खुई में फेंक दिया। पुलिस ने महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

आपको बता दें कि इस आरोपी महिला का नाम सुखप्रीत कौर है। वहीं पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार यह आरोपी महिला देर रात तक चोरी-छिपे किसी से फोन पर बातें करती रहती थी। जिस पर उसके पति ने आपत्ति जाहिर की थी। सुखप्रीत को शक था कि उसकी जेठानी ने ही उसके पति को यह बात बताई थी। इस कारण वह अपनी जेठानी से रंजिश रखती थी।

वहीं इस मृतक मासूम बच्ची महक प्रीत की मां अमनदीप कौर ने जानकारी देते हुए बताया कि बीते बुधवार को वह किसी काम से जब बैंक गई हुई थी तो उसने अपनी 3 महीने की बेटी महक को पड़ोसियों के घर छोड़ दिया था। इस दौरान मौके का फायदा उठाकर उसकी देवरानी सुखप्रीत कौर ने अपने बेट का भेज कर मासूम महक को घर लेकर आने को कहा। वहीं पड़ोसियों के घर से बच्ची को लाने के बाद सखुप्रीत ने उसे सुला दिया। इसके बाद उसने सो रही बच्ची को ही घर के आंगन में गड्डा खोद कर दफना दिया। सारा दिन बच्ची को ढूंढने के बाद भी जब वह नहीं मिली। तो बीते गुरुवार को आरोपी सुखप्रीत ने खुद ही परिवार वालों को जानकारी दी कि बच्ची का शव खुई में पड़ा हुआ है।

इसी के साथ मामले की जांच कर रहे इंस्पेक्टर बलवीर सिंह ने बताया कि शक के आधार पर पुलिस ने आरोपी महिला को हिरासत में ले लिया है। पुलिस को शक तब हुआ जब पहले दिन बच्ची खुई में नहीं थी और दूसरे दिन उसका शव खुई मे मिला। आंगन में दफानाने के बाद महिला ने शव को निकाल लिया था। सख्ती से पूछताछ के बाद उसने अपना गुनाह कबूल लिया।