हिमाचल: कांगड़ा की 22 वर्षीय नर्सिंग छात्रा ने पंजाब में ग‌र्ल्स हॉस्टल में की आत्महत्या, वजह का पता नहीं चल सका

हिमाचल प्रदेश की 22 वर्षीय एक युवती ने पंजाब में आत्महत्या कर ली है। वहीं युवती कांगड़ा की रहने वाली थी और होशियारपुर-चंडीगढ़ रोड पर स्थित रयात बाहरा कॉलेज के ग‌र्ल्स हॉस्टल के एक कमरे में छात्रा का शव फंदे से लटका मिला है। वहीं मृत छात्रा की पहचान 22 वर्षीय सुरभि निवासी प्रेई (शाहपुर) के रूप में हुई है। वह बीएससी नर्सिग सैकंड ईयर की छात्रा थी‌। वहीं आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है।

इसी के साथ सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पता चला है कि लॉकडाउन के बाद कॉलेज बंद हो गए थे और सुरभि गांव लौट गई थी। लेकिन हाल ही में रविवार को उसके परिजन उसे कॉलेज छोड़कर गए थे। इसके बाद दो-तीन बार सुरभि से फोन पर उनकी बात भी हुई थी, जिसमें कुछ ऐसा नहीं लगा कि वह परेशान हो। वहीं गुरुवार को कॉलेज से फोन आया कि सुरभि ने आत्महत्या कर ली है। वहीं परिजनों को पहले तो विश्वास ही नहीं हुआ। वहीं यह भी बताया जा रहा है कि सुरभि पढ़ाई में होशियार थी।

इसी के साथ मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पिता ने बताया कि सुरभि से बहुत उम्मीद थी। वह उनकी बेटी नहीं, बेटा था। सुरभि के साथ-साथ उनका एक बेटा भी था, जो कि जन्म से ही असामान्य था और पिछले साल बेटे अर्णव की मौत हो गई थी। और अब बेटी की मौत ने तोड़ दिया है। आशीष ने जानकारी देते हुए बताया कि सुबह जब वह घर से निकले थे तो सुरभि की मौत का पता था, परंतु पत्नी को कुछ नहीं बताया था। वहीं जांच अधिकारी थाना चब्बेवाल के एएसआई राकेश कुमार ने बताया कि आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। अभी तक यह सवाल बना हुआ है कि आखिर सुरभि ने आत्महत्या क्यों की। शव लेने पहुंचे सुरभि के पिता ने बताया कि वह हिमाचल पुलिस में हेड कांस्टेबल हैं।