हिमाचल: जम्मू-कश्मीर के पुंछ में एक बारूदी सुरंग फटने से हमीरपुर का 27 वर्षीय जवान हुआ शहीद, तीन माह बाद होनी थी शादी

जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले के मनकोट सेक्टर में एलओसी के पास एक बारूदी सुरंग फटने से हमीरपुर का जवान शहीद हो गया है। इस शहीद की पहचान 27 वर्षीय कमल देव वैद्य पुत्र मदन लाल निवासी गांव घुमारवीं, पंचायत लगमन्वी तहसील भोरंज जिला हमीरपुर के रूप में हुई है। आपको बता दें कि कमल छह वर्ष पहले ही भारतीय सेना की 15 डोगरा रेजिमेंट में शामिल हुए थे। इसके साथ ही दो माह पहले अप्रैल में ही वह अपने घर पर छुट्टियां काटने के बाद वापस अपनी बटालियन में गए थे। वहीं आपको बता दें कि तीन माह बाद अक्तूबर में कमल की शादी होनी थी। और अब माता-पिता बेटे के सिर पर सेहरा भी नहीं सजा सके।

वहीं शहीद कमल के पिता मदन लाल ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें शनिवार की सुबह ही सेना मुख्यालय से फोन आया कि उनका बेटा कमल देव पुंछ में एक ऑपरेशन के दौरान शहीद हो गया है। वहीं मौत की खबर सुनने के बाद इनके पूरे परिवार में शोक की लहर दौड़ गई है। शहीद कमलदेव अपने पीछे माता-पिता, बड़ा भाई और दो बहनें छोड़ गए हैं। शनिवार को दोपहर बाद शहीद की पार्थिव देह उनके पैतृक गांव पहुंचनी थी, लेकिन खराब मौसम के चलते हवाई जहाज उड़ान नहीं भर सका है।

जिसके कारण अब रविवार को शहीद की पार्थिव देह हमीरपुर पहुंचने की उम्मीद है। वहीं एसडीएम भोरंज राकेश शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि वह स्वयं सैन्य अधिकारियों के संपर्क में हैं। खराब मौसम के कारण शहीद कमल देव की पार्थिव देह यहां नहीं पहुंच पाई है। रविवार को पार्थिव देह पहुंचने की उम्मीद है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पूरे सैन्य और राजकीय सम्मान के साथ शहीद का अंतिम संस्कार किया जाएगा।