हिमाचल: ‘जय माता दी’ का नारा लगाकर माता बज्रेश्वरी देवी मंदिर के हवन कुंड में कूद गया 63 वर्षीय श्रद्धालु, बुरी तरह झुलसा, अस्पताल में भर्ती

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में शारदीय नवरात्र की अष्टमी के दिन बज्रेश्वरी देवी मंदिर के हवन कुंड में एक श्रद्धालु ने जय माता दी का नारा लगा कर छलांग लगा दी। इसी के साथ इस श्रद्धालु के हवन कुंड में कूदते ही वहां मौजूद अन्य श्रद्धालुओं और मंदिर के पुजारियों में हड़कंप मच गया। वही हवन कुंड के पास मौजूद कर्मचारियों और पुजारियों ने कड़ी मशक्कत के बाद इस श्रद्धालु को हवन कुंड से बाहर निकाला। आपको बता दे कि हवन कुंड में गिरने से यह श्रद्धालु बुरी तरह से झुलस गया है।

आपको बता दे कि अष्टमी के कारण शक्तिपीठ माता श्री बज्रेश्वरी देवी मंदिर में बुधवार को सुबह से ही श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी थी। इसीके साथ हवन कुंड में भी श्रद्धालुओं की भारी भीड़ मौजूद थी। यहाँ पर श्रद्धालु हवन कुंड के हवन में बारी-बारी से आहुति डाल रहे थे। इसके बाद शाम को करीब चार बजे हवन कुंड में आहुति डालते समय एक श्रद्धालु ने जय माता दी का जयकारा लगाया और हवन कुंड में कूद गया। मंदिर के कर्मचारियों और पुजारियों ने उसे बड़ी मुश्किल से हवन कुंड से बाहर निकाला।

वहाँ मौके पर मौजूद लोगों ने इस मामले में जानकारी देते हुए बताया कि जब वह भक्त कुंड के पास पहुंचा तो जय माता दी के नारे लगाते हुए उसने हवन कुंड में छलांग लगा दी। इसके बाद जब उसे बाहर निकाला गया तो वह काफी झुलस चुका था। मंदिर में मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने घायल भक्त को कांगड़ा के उप मंडलीय चिकित्सालय में भर्ती करवाया है। यह भी बताया जा रहा है कि अब भी श्रद्धालु की हालत गंभीर बनी हुई है। थाना प्रभारी कांगड़ा भारत भूषण ने जानकारी देते हुए बताया कि मंदिर से उन्हें श्रद्धालु के हवन कुंड में गिरने की सूचना मिली है। मंदिर अधिकारी दलजीत शर्मा ने इस मामले में बताया कि एक श्रद्धालु के हवन कुंड में गिरने की जानकारी तो मिली है, परंतु यह श्रद्धालु हवन कुंड में कैसे जा गिरा यह अभी तक स्पष्ट नहीं है, इसकी अब जांच की जा रही है। उन्होंने यह भी बताया कि पुलिस की सहायता से इस श्रद्धालु को कांगड़ा उप मंडलीय चिकित्सालय में भर्ती करा दिया गया है। वहीं, अब प्राथमिक उपचार देने के बाद घायल शख्स को डॉ राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज टांडा में शिफ्ट कर दिया गया है। वहीं मंदिर के पुजारियों का कहना है कि यह पूरा मामला आस्था से जुड़ा हुआ है।

इसी के साथ ही डीएसपी कांगड़ा सुनील राणा ने जानकारी देते हुए बताया कि माता ब्रजेश्वरी मंदिर कांगड़ा में 1 श्रद्धालु, जिसकी पहचान मनफूल सिंह पुत्र बिहारी लाल निवासी नगला जाख, तहसील कंचन जिला मैनपुरी उत्तर प्रदेश आयु 63 वर्ष के रूप में हुई है, मंदिर परिसर में बने हवन कुंड में कूद पड़ा तथा आग से झुलस गया है, जिसे तुरंत ही पुलिस की टीम द्वारा सिविल अस्पताल कांगड़ा ले जाया गया। उन्होंने यह भी बताया कि यह श्रद्धालु लगभग 40% जल चुका है, जिसे बाद में डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज टांडा भेज दिया गया है।