हिमाचल: ठेकेदार के मोबाइल चोरी के शक में पुलिस ने मजदूरों को सड़क पर ही बनाया मुर्गा, 3 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला की पुलिस एक बार फिर से विवादों के घेरे में आ खड़ी है। इस बार यह विवाद सड़क किनारे पुलिस वालों द्वारा मजदूरों को मुर्गा बनाये जाने पर हुआ है। आपको बता दें कि शिमला के टिंबर हाउस में 8 मजदूरों को पुलिस ने सड़क पर मुर्गा बना दिया। ये सभी मजदूर यहां निर्माण कार्य में लगे हुए थे। वहीं यह पूरी घटना सोमवार की शाम को करीब साढ़े छह बजे की बताई जा रही है।

इसी के साथ ही इन मजदूरों को मुर्गा बनाता देखकर आसपास के लोग भी हैरान हो गए। और इनकी फोटो और वीडियो लेने लगे। जोकि बाद में सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ है। वहीं इस मामले में अब एसपी शिमला मोहित चावला ने तीन पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर किया है। वहीं अब इस मामले की जांच डीएसपी को सौंप दी गई है।

यह पूरा मामला ठेकेदार के मोबाइल गुम होने से शुरू हुआ था। ठेकेदार को इस मामले में अपने मजदूरों पर ही शक था कि इनमें से किसी ने मोबाइल चुराया है। इसके बाद इस की शिकायत छोटा शिमला पुलिस को कर दी गई। थाने से पुलिस के तीन कर्मचारी मौके पर पहुंचे। वहीं वायरल वीडियो में नजर आ रहा है कि पुलिस कर्मियों द्वारा मजदूरों को मुर्गा बनाया गया है। वहीं यदि ठेकेदार का मोबाइल गुम भी हुआ था तो इस मामले की पूछताछ मजदूरों को थाने में ले जाकर की जानी चाहिए थी, लेकिन सार्वजनिक जगह पर पुलिस द्वारा मजदूरों के साथ किया गया इस तरह का अमानवीय व्यवहार अब चर्चा का विषय बना हुआ है।

वहीं एसपी मोहित चावला ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस हमेशा लोगों की मदद और बेहतरी के लिए दिन रात कार्य कर रही है और इस तरह का व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। वीडियो में नजर आ रहे तीन पुलिस कर्मचारियों को लाइन हाजिर कर दिया है और डीएसपी को इस मामले की जांच भी सौंप दी गई है।