हिमाचल प्रदेश कैबिनेट मीटिंग: 26 जुलाई से खुलेंगे कोचिंग संस्थान और 2 अगस्त से खुलेंगे 10वीं से 12वीं कक्षा के स्कूल, आनलाईन कक्षाएं जारी रहेंगी

हिमाचल प्रदेश में हुई आज की कैबिनेट मीटिंग में अब दसवीं, 11वीं और बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खोलने का फैसला लिया गया है। वहीं इन कक्षाओं के लिए दो अगस्त से स्कूल खोले जाएंगे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में यह फैसला लिया गया है। इसी के साथ स्कूलों को कोरोनावायरस से बचाव के लिए बनाए गए एसओपी का भी पालन करना होगा।

कैबिनेट बैठक में कोचिंग, ट्यूशन और ट्रेनिंग संस्थानों को 26 जुलाई से खोलने के लिए अनुमति दे दी गई है। इन संस्थानों को भी कोरोनावायरस के लिए जारी एसओपी का पालन करना होगा। इसी के साथ 5वीं और 8वीं कक्षा के विद्यार्थी भी अब परामर्श के लिए 2 अगस्त से स्कूलों में आ सकते हैं। इनके लिए हाजिरी की अनिवार्यता नहीं होगी। वहीं सभी छात्रों की ऑनलाइन पढ़ाई भी जारी रहेगी। इसी के साथ रिसर्च स्कॉलरों को भी अनुसंधान के लिए विश्विद्यालय में आने की अनुमति दे दी गई है। वहीं इसके लिए विश्विद्यालय प्रशासन द्वारा शेडयूल जारी किया जाएगा।

इसी के साथ आपको बता दें कि कैबिनेट ने प्रदेश सचिवालय में कनिष्ठ कार्यालय सहायक (आईटी) के 100 पदों को भरने की भी मंजूरी दे दी है। ये सभी पद सीधी भर्ती के माध्यम से भरे जाएंगे। इस कैबिनेट बैठक में राजधानी शिमला की कोटखाई तहसील के कलबोग में नई उप तहसील बनाने का भी निर्णय लिया गया है। वहीं आपको बता दें कि अब शिमला के जुब्बल-कोटखाई क्षेत्र के टिक्कर में फायर पोस्ट खोलने का भी निर्णय लिया गया है। कैबिनेट ने महिला औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान भराड़ी  बिलासपुर को सह-शैक्षिक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में परिवर्तित करने व दोनों ट्रेडों को मैकेनिक मोटर व्हीकल एवं फिटर में सर्वेयर एवं कार्यालय सहायक कम कम्प्यूटर ऑपरेटर के पद परिवर्तित करने को भी अपनी सहमति प्रदान कर दी है।