हिमाचल में कोरोना: फिर से आया मार्च और फिर से डराने लगा कोरोना, 5 दिन में मिले 300 नए मामले

हिमाचल प्रदेश में गुरुवार को 16 कॉलेज स्टूडेंट्स समेत 65 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। हालांकि, इस बीच किसी भी कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत नहीं हुई है। चिंता की बात यह है कि बीते पांच दिन में हिमाचल में 300 से अधिक कोरोना संक्रमित मामले दर्ज हुए हैं। गुरुवार को कांगड़ा जिले में 20, ऊना में 10, सोलन में 11, सिरमौर में आठ, बिलासपुर में चार, हमीरपुर में आठ, शिमला में दो, मंडी और कुल्लू में एक-एक नया मामला सामने आया है। दरअसल, एक बार फिर से मार्च महीने में कोरोना पैर पसारने लगा है।

कांगड़ा में बौद्ध भिक्षुओं के बाद अब कॉलेज स्टूडेंट्स कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इंदौरा कॉलेज में 16 स्टूडेंट्स कोरोना संक्रमित हुए है‌। कॉलेज में अब अन्य विद्यार्थियों व शिक्षकों के भी जांच के लिए सैंपल लिए जाएंगे। धर्मशाला में मॉनेस्ट्री में अब तक 156 बौद्ध भिक्षु पॉजिटिव आ चुके हैं।

वहीं आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश में गुरुवार को कोरोना जांच के लिए 6584 लोगों के सैंपल लिए गए थे, इनमें से 6307 की रिपोर्ट नेगेटिव और 233 सैंपलों की रिपोर्ट अभी भी पेंडिंग है। प्रदेश के कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 59942 पहुंच गया है। वहीं अब सक्रिय मामले 540 हो गए हैं। अब तक 57406 संक्रमित ठीक हो चुके हैं और 983 लोगों की मौत भी हो चुकी है, बिलासपुर में कोरोना के सक्रिय केसों की संख्या 33 , चंबा में सात, हमीरपुर में 16, कांगड़ा में 241, किन्नौर में आठ, कुल्लू में 15, मंडी में 19, शिमला में 45, सिरमौर में 44, सोलन में 52 और ऊना जिले में 60 सक्रिय मामले हैं।

वहीं आपको बता दें कि हिमाचल के सीएम जयराम ठाकुर को गुरुवार को विधानसभा में ही कोरोना का टीका लगाया गया है। उनके अलावा, कुछ और विधायकों ने भी वैक्सीन की पहली डोज ली है। हिमाचल में साठ साल से ऊपर के 4670 लोगों को कोरोना का टीका लग चुका है। गुरुवार को 2528 लोगों को यह वैक्सीन दी गई है। तीसरे चरण के तहत कोरोना वैक्सीन का यह अभियान चल रहा है।