हिमाचल: 25 वर्षीय युवक ने कंदरौर पुल से गोविंद सागर डैम में रेलीग पर चढ कर की आत्महत्या की कोशिश, पहलवान ने मुस्तैदी और सूझबूझ से बचाई जान, पुलिस ने की पूछताछ

हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में एक युवक ने कंदरौर पुल से गोविंद सागर डैम में कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की। हालांकि, वहां मौजूद लोगों की मुस्तैदी और सूझबूझ से युवक की जान बच गई। इससे पहले कि युवक पुल से कूद कर डैम में गिरता। इससे पहले ही लोगों ने पुल की रैलिंग के साथ उसे पकड़ लिया और फिर काफी मशक्कत के बाद उसे दूसरी ओर खींचा। दरअसल, युवक को पुल से कूदता देख, गाड़ी में जा रहे पहलवान निशांत ने अपनी गाड़ी से उतरकर युवक के हाथ के कड़े को पकड़ लिया। इससे यह युवक डैम में नीचे गिरने से बच गया। इसके बाद स्थानीय लोगों ने बस की छत पर खड़े होकर रस्सा डालकर युवक को वहां से बाहर निकाल लिया।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, यह घटना बिलासपुर के कंदरौर पुल की है। जैसे ही इस युवक ने पुल के ऊपर छलांग लगाने का प्रयास किया, स्थानीय लोगों ने मौके पर ही युवक को पकड़ लिया। वहीं इस घटनाक्रम को स्थानीय लोगों ने अपने कैमरे में भी कैद कर लिया है। वहीं आपको बता दें कि अब पुलिस मौके पर पहुंच कर हर पहलू की जांच कर रही है कि आखिर क्या कारण था कि यह युवक आत्महत्या करने पर मजबूर हो गया।

वहीं आपको बता दें कि इस युवक की जेब से फोरेस्ट गार्ड भर्ती के लिए किया गया आवेदन मिला है, जिससे उसकी पहचान 25 वर्षीय सोमनाथ निवासी गांव सिंधर के रूप में हुई है। इसी के साथ अभी तक इस बात का कोई पता नहीं चल सका है कि युवक ने आत्महत्या कर ने का कठोर कदम क्यों उठाया?

वहीं सूत्रों से मिली जानकारी से यह पता चला है कि 12 बजे के करीब एक युवक कंदरौर पुल पर काफी समय से टहल रहा था। ऐसे में स्थानीय लोगों की नजर उक्त युवक पर पड़ी। युवक ने देखते-देखते पुल से छलांग लगाने की कोशिश की। पुल के ऊपर से गुजर रहे लोगों ने युवक को ऐसा करते देख लिया और युवक को छलांग लगाने से पहले ही पकड़ लिया। वहीं इस मामले की सूचना स्थानीय लोगों ने बिलासपुर थाना पुलिस को भी दी और मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक से पूछताछ की है।